गेहूं निर्यात पर प्रतिबंध लगाने को लेकर चिदंबरम का केंद्र पर हमला, कहा

किसान विरोधी है सरकार, देश हित में नहीं आर्थिक नीतियां

केंद्र और राज्यों के बीच वित्तीय संबंधों की हो समीक्षा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
उदयपुर। केंद्र सरकार के गेहूं के निर्यात पर रोक लगाने के फैसले पर पूर्व वित्तमंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि निर्यात से किसानों को अच्छी कमाई हो सकती थी, परंतु सरकार ऐसा नहीं चाहती। इसी वजह से उसने यह किसान विरोधी कदम उठाया है।
चिदंबरम ने कहा कि मुझे लगता है कि केंद्र सरकार पर्याप्त मात्रा में गेहूं खरीद नहीं कर सकी। इसी वजह से उसने निर्यात पर प्रतिबंध लगाया है। गेहूं का उत्पादन कम नहीं हुआ है बल्कि बढ़ा ही है। अगर खरीद हुई होती तो गेहूं के निर्यात पर पाबंदी लगाने की जरूरत ही नहीं पड़ती। महंगाई अस्वीकार्य स्तर तक पहुंच गई है। अपनी गलत नीतियों से सरकार महंगाई बढ़ा रही है। इनकी आर्थिक नीतियां देशहित में नहीं हैं। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था चिंतनीय है। पिछले आठ साल में विकास की धीमी दर वर्तमान सरकार की पहचान रही है। राज्यों की वित्तीय स्थिति बेहद खराब है। समय आ गया है कि केंद्र और राज्यों के बीच वित्तीय संबंधों की व्यापक समीक्षा की जाए। 2017 में मोदी सरकार के गलत तरीके से लागू किए गए जीएसटी का परिणाम सबके सामने है। लोगों को महंगाई की मार झेलनी पड़ी है। लोगों की नौकरियां छीन गई। महंगाई और उच्चतम ब्याज दर के कारण रुपया कमजोर हुआ है। सरकार पूरी तरह से फेल है। हम उनकी असफलताओं को जनता के सामने रखेंगे। रोजगार को लेकर चिदंबरम ने कहा कि 2019 में हमने केंद्र सरकार में रिक्त वेकैंसी को भरने की बात कही थी। भाजपा ने भी यही वादा किया था लेकिन 2019 के बाद रेलवे और पैरामिलिट्री में वेकैंसी बढ़ गई। ये नौजवानों और पिछड़े तबके के खिलाफ है। अगर आप सरकारी भर्तियां नहीं करेंगे तो लोग नौकरियां ढूंढने कहां जाएंगे। ये जनता विरोधी सरकार है। साथ ही उन्होंने माना कि देश के बिगड़ते आर्थिक हालातों को हम जनता तक पहुंचाने में फेल हो गए। अब हम जनता के सामने सारे मुद्दे रखेंगे।

ढाबा संचालक ने ग्राहक की गोली मारकर कर दी हत्या

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
कासगंज। पटियाली-अलीगंज मार्ग पर भदौरिया ढाबा संचालक ने खाना खाने आए ग्राहक को गोली मार दी, जिससे ग्राहक की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस मामले की जांच कर रही है। बीती रात भदौरिया ढाबा संचालक एवं ग्राहक के बीच पानी की बोतल को लेकर गहमा-गहमी हो गई और यह बात मारपीट तक आ गई। ढाबा संचालक ने ग्राहक पंकज सिंह को गोली मार दी, जिससे पंकज (32) पुत्र राकेश सिंह, निवासी अशोकपुर, कोतवाली पटियाली, जनपद कासगंज की मौके पर ही मौत हो गई। घटना को अंजाम देने के बाद ढाबा संचालक मौके से फरार हो गया। सूचना पर कोतवाली पटियाली पुलिस मौके पर पहुंच गई और घटना की जांच पड़ताल शुरू कर दी। कोतवाली पटियाली प्रभारी निरीक्षक ने बताया कि पंकज सिंह और भदौरिया ढाबा संचालक के बीच पानी की बोतल को लेकर विवाद हो गया था जिसके बाद ढाबा संचालक ने पंकज सिंह को गोली मार दी। पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है।

शेख खलीफा के निधन पर यूपी में राजकीय शोक
सीएम योगी ने स्थगित किए सभी कार्यक्रम
संयुक्त अरब अमीरात के राष्टï्रपति के निधन पर जताया शोक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति शेख खलीफा के निधन पर गोरखपुर में आयोजित होने वाले सभी कार्यक्रम स्थगित कर दिए हैं। इसमें सीएम योगी द्वारा 280 करोड़ रुपये की परिजनाओं का लोकार्पण कार्यक्रम भी शामिल था। शेख खलीफा के निधन पर उत्तर प्रदेश में आज एक दिन का राजकीय शोक घोषित किया गया है। इससे पहले सीएम योगी ने संयुक्त अरब अमीरात के राष्ट्रपति शेख खलीफा के निधन पर शोक प्रकट किया। उन्होंने शेख के परिजनों के प्रति हार्दिक संवेदना प्रकट की है।
सीएम योगी आज रामगढ़ताल क्षेत्र स्थित महंत दिग्विजयनाथ स्मृति पार्क में 144 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण-शिलान्यास और जनसभा करने वाले थे। इस साथ ही मुख्यमंत्री 33.16 करोड़ रुपये की लागत वाली ग्रामीण अभियंत्रण विभाग और गोरखपुर विकास प्राधिकरण की 40 परियोजनाओं का लोकार्पण करने वाले थे। संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के राष्ट्रपति एवं अबूधाबी के शासक शेख खलीफा बिन जायद अल नाह्यान का शुक्रवार को निधन हो गया था।

मुंडका अग्निकांड: घटना स्थल पर पहुंचे सीएम केजरीवाल,मुआवजे का किया ऐलान
तीन मंजिला इमारत में आग लगने से 27 लोगों जल गए थे जिंदा, कई लापता, जांच के आदेश
मृतकों के परिजनों को दस-दस लाख का मुआवजा, कंपनी के दो मालिकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
दिल्ली। मुंडका इलाके में मेट्रो स्टेशन के पास स्थित तीन मंजिला व्यावसायिक इमारत में लगी भीषण आग के बाद आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने घटना के मजिस्टीरियल जांच के आदेश दिए है। साथ ही मुआवजे का ऐलान भी किया।
दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि इस मामले में दिल्ली सरकार ने मजीस्टीरियल जांच के आदेश दे दिए हैं। साथ ही मृतकों के परिजनों को 10-10 लाख का मुआवजा दिया जाएगा और घायलों के लिए 50-50 हजार की व्यवस्था की गई है। यह भीषण आग थी जिसमें कई लोगों की मौत हो गई। लोगों के शव इतनी बुरी तरह से जल गए हैं कि उन्हें पहचान पाना भी मुश्किल है। हमने गायब हुए और मृत लोगों की पहचान के लिए लोगों को तैनात किया है। गौरतलब है कि मुंडका इलाके में मेट्रो स्टेशन के पास स्थित तीन मंजिला व्यावसायिक इमारत में शुक्रवार शाम भीषण आग लग गई। हादसे में महिला समेत 27 लोगों की मौत हो गई, जबकि 12 लोग झुलस गए। जिन्हें ग्रीन कॉरिडोर बनाकर संजय गांधी अस्पताल भेजा गया। आज सुबह तक आग जरूर बुझा ली गई है लेकिन राहत व बचाव कार्य अब भी जारी है। कई लोगों के लापता होने के चलते परिजन उनकी तलाश कर रहे हैं। इसके पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, गृहमंत्री अमित शाह, कांग्रेस सांसद राहुल गांधी व तमाम नेताओं ने इस घटना पर शोक व्यक्त किया। प्रधानमंत्री ने मृतकों के परिजनों के लिए 2-2 लाख और घायलों के लिए 50-50 हजार रुपये के मुआवजे की घोषणा की है जो प्रधानमंत्री राहत कोष से दी जाएगी। पुलिस ने इस मामले में कंपनी के दो मालिकों हरीश गोयल और वरुण गोयल को गिरफ्तार किया है।

स्कार्पियो और आल्टो कार में टक्कर, तीन की मौत, दो घायल
बहराइच से लखनऊ आ रहे थे कार सवार, एक ही गांव के दो लोगों की मौत से कोहराम
नानपार-लखीमपुर राष्ट्रीय राजमार्ग पर हुआ हादसा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
बहराइच। नानपारा-लखीमपुर राष्ट्रीय राज मार्ग पर दो कारों की आमने-सामने भिड़ंत हो गई। इस दुर्घटना में दो लोगों की मौके पर ही मौत हो गई जबकि तीन लोग घायल हो गए। घायलों में एक की इलाज के दौरान मौत हो गई जबकि दो अस्पताल में भर्ती हैं। मिहींपुरवा के नैनिहा राजापुर से पांच लोग अल्टो कार में सवार होकर लखनऊ आ रहे थे।
कार सवार देर रात 12 बजे रजवापुर के पास पहुंचे ही थे कि तभी सामने से आ रही स्कोर्पियो से भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी तेज थी कि अल्टो के परखच्चे उड़ गए। नैनहिया राजापुर निवासी हरिदेव का पुत्र धर्मपाल (21) एवं बलसिंहपुर निवासी तीरथराम (37) की मौके पर मौत हो गई। इसके अलावा बलसिंहपुर के विनोद (30), खैरासमेसा निवासी रामू (25) एवं एक अन्य घायल हो गए। एक अज्ञात व विनोद की हालत गंभीर होने के कारण उन्हें जिला चिकित्सालय रेफर कर दिया गया। इलाज के दौरान विनोद की मौत हो गई। रामू का इलाज सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नानपारा व अज्ञात का इलाज जिला चिकित्सालय में चल रहा है। एक ही गांव के दो लोगों की मौत से कोहराम मच गया। अस्पताल एवं पोस्टमार्टम स्थल पर ग्रामीणों की भीड़ इकट्ठा हो गई। परिवारीजन का रो-रो कर हाल बेहाल है। प्रभारी निरीक्षक भानुप्रताप सिंह ने बताया कि मृतक के भाई मिथिलेश की तहरीर पर मुकदमा पंजीकृत कर लिया गया है। स्कार्पियों की तलाश की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button