अब फतेहपुर में जीका वायरस की दस्तक, मचा हड़कंप

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने परिजनों का लिया सैंपल, मरीज को किया गया आइसोलेट, अलर्ट पर प्रशासन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
फतेहपुर। अब प्रदेश के फतेहपुर में भी जीका वायरस ने दस्तक दे दी है। तेलियानी ब्लॉक के त्रिलोकीपुर गांव में जीका वायरस का पहला केस मिलने के बाद से स्वास्थ्य महकमे में हड़कंप मचा है। 35 वर्षीय युवक राम प्रताप सिंह की जांच रिपोर्ट में जीका वायरस की पृष्टि होने के बाद प्रशासन अलर्ट मोड पर आ गया है। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने गांव का दौरा किया और पीडि़त मरीज के परिजनों सहित कुल 21 लोगों के सैंपल लिए हैं। मरीज को होम आइसोलेट किया गया है।
सीएमओ डॉ. राजेंद्र सिंह ने बताया कि शहर से सटे तेलियानी ब्लॉक के त्रिलोकीपुर गांव के रहने वाले 35 वर्षीय राम प्रताप को काफी दिनों से बुखार आ रहा था। वह सोमवार को इलाज कराने जिला अस्पताल के ओपीडी वार्ड में पहुंचा था। डॉक्टरों ने राम प्रताप का सैंपल लेकर जांच के लिए लखनऊ भेज दिया था। शुक्रवार को जब युवक की जांच रिपोर्ट आई तो उसमें जीका वायरस की पृष्टि हुई। रिपोर्ट आने के तुरंत बाद त्रिलोकीपुर गांव का विजिट किया गया है। प्रशासन की तरफ से चार नोडल अधिकारी बनाए गए हंै। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग की तरफ से भी सर्वे, टेस्टिंग, मेडिकल कैंप व मलेरिया की चार टीमें बनाई हैं। सर्विलांस टीम ने 82 घरों का सर्वे किया है बाकी बचे 290 घरों का सर्वे आज किया जाएगा। गांव में मेडिकल कैंप लगाकर बुखार से पीडि़त रोगियों को दवाएं दी जा रही हैं। जीका वायरस का पहला केस मिलने के बाद डीएम अपूर्वा दुबे ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की है। साथ ही जीका वायरस से निपटने के लिए डीएम ने सभी तैयारियों पर जोर दिया है। मरीजों के लिए जिले में 61 बेड तैयार किए गए हैं। इसके पहले कानपुर, उन्नाव और लखनऊ में भी जीका वायरस के केस मिल चुके हैं।

वैक्सीनेशन को चलेगा सघन अभियान

लखनऊ। अब राजधानी में टीकाकरण कराने के लिए किसी प्रकार के पंजीकरण की जरूरत नहीं पड़ेगी। जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने बताया कि कोरोना के खिलाफ लड़ाई में जिला प्रशासन लखनऊ द्वारा 26 नवंबर 2021 से टीकाकरण के लिए पहले से पंजीकरण कराने की अनिवार्यता को समाप्त कर दिया गया है। अब जनपदवासी बिना पंजीकरण के सीधे टीकाकरण केंद्रों पर पहुंचकर टीकाकरण करा सकते हैं। पहले से रजिस्ट्रेशन कराने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। उन्होंने अपील की है कि वॉक इन टीकाकरण व्यवस्था का लाभ उठाते हुए अधिक से अधिक संख्या में टीकाकरण केंद्रों में पहुंच कर पंजीकरण कराए। उन्होंने बताया कि अभियान में कोविशल्ड एवं को वैक्सीन दोनों प्रकार की वैक्सीन का प्रयोग करते हुए लाभार्थियों को प्रथम एवं द्वितीय खुराक से लाभान्वित किया जाएगा। जिलाधिकारी द्वारा बैठक में आए हुए अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन लोगों के द्वितीय डोज लगनी है और उन्होंने अभी तक टीकाकरण नहीं कराया है, उनके लिए 28 नवम्बर से दो दिसम्बर 2021 तक 5 दिनों का सघन अभियान चलाया जाए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button